पाकिस्तान: अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन का शिकार हुई सिख लड़की।

पाकिस्तान के  ननकाना साहिब में अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन का शिकार हुई लड़की को उसके घर पहुंचा दिया गया। इस बात की जानकारी खुद वहां कि स्थानीय पुलिस ने दी है। पुलिस ने इस मामले में 8 लोगों को गिरफ्तार किया है। आपको बता दें कि पीड़िता की उम्र 19 साल है और उसका अपहरण करने के बाद धर्म परिवर्तन कर उसकी शादी मुस्लिम लड़की से करा दी गई थी। जी हां ये मामला उस समय सामने आया जब शिरोमणि अकाली दल के विधायक मजिंदर सिंह सिरसा ने उसके परिवारजनों का वीडियो शेयर किया, जिसमें उन लोगों ने पूरी घटना बताई थी।  इस घटना से पूरी दुनिया में सिखों का आक्रोश बढ़ गया। पीड़िता के पिता गुरुद्वारा में ग्रंथी हैं।  

क्या है ये पूरा मामला…जानने के लिए देखिए बिस्बो एनिमेशन पर इसी मुद्दे पर बनीं स्टोरी।

इस घटना पर भारत में भी कई नेताओं ने प्रतिक्रिया दी है और सभी ने आरोपियों को सजा देने की फौरन मांग की। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने  भारत तथा पाकिस्तान की सरकारों से तुरंत हस्तक्षेप करने की मांग की। सिंह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग भी की है। उन्होंने विदेश मंत्री एस. जयशंकर से आग्रह किया कि वह इस्लामाबाद में अपने समकक्ष के साथ ये मुद्दा उठाएं। उन्होंने एक बयान में कहा कि धर्म एक निजी मामला है और इस तरह के जबरन धर्म परिवर्तन का किसी भी समाज में कोई स्थान नहीं है। केंद्रीय मंत्री और अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने इस घटना को शर्मनाक बताया और कहा कि सिख समुदाय दुनिया को बताएगा कि पाकिस्तान अल्पसंख्यकों के साथ क्या कर रहा है।

जीं हां…ऐसी शर्मनाक घटना पहली बार नहीं हुई है…ये सच है, कि पाकिस्तान में हजारों महिलाओं का अपहरण करके, उन्हें जबरन मुसलमान बनाया जाता है और फिर उन्ही अपहरणकर्ताओं से शादी करवा दी जाती है।

-सितंबर 2019 में डेन्टल स्टूडेंट, सिंध* की लड़की नम्रता चंदानी को, शायद इसी सिलसिले में मारा गया था।
-एक महीने पहले अगस्त 2019 में, रेणुका कुमारी, साथी छात्र बाबर अमन द्वारा कॉलेज* से अगवा कर ली गई, जबरन धर्म परिवर्तन और निकाह के लिए। वो अब भी जिंदा है, लेकिन लापता।
-जुलाई 2016 में, पाकिस्तानी सोशल मीडिया स्टार, कंदील बलोच को उसके ही भाई* ने, गला दबाकर मार डाला…

दुनिया भर में 5,000 से अधिक* महिलाएं ‘ऑनर किलिंग’ की शिकार हैं, ज्यादातर इस्लामिक समाजों से; मारने की मुख्य वजह है…
अरेंज मैरिज या जबरन शादी से इंकार, अफेयर होना या फिर अपने प्रेमी के साथ घर से भाग जाना, जाति से बाहर शादी करना, तलाक की मांग, समलैंगिकता, बलात्कार के शिकार महिलाएं, जो अपने ही परिवार द्वारा मारी जाती हैं।

महिलाओं के खिलाफ जुर्म, पितृसत्तात्मक समाजों में कोई नई बात नहीं; 2015 भारत में भी 251 ‘ऑनर किलिंग’ हुई, जबकि पाकिस्तान* में, 2014-15 के दौरान, 1,276* ऐसे अपराध हुए और ये आगे भी होते रहेंगे जबतक देश या हम कोई ठोस कदम नहीं उठाते। जब सरकार कोई कड़ा कानून नहीं बना देती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *