देश के 10 सबसे बड़े रेप केस और हैदराबाद बलात्कार हत्या मामले पर एक नज़र।

किसी भी शख़्स की मर्ज़ी के बग़ैर उसके साथ जिस्मानी रिश्ता कायम करना बलात्कार कहलाता है। ये एक जुर्म है। अगर बलात्कार करने में एक से ज़्यादा लोग शामिल हों तो उसे सामूहिक बलात्कार कहते हैं। बलात्कार सबसे घिनौने किसम के जुर्मों में गिना जाता है और इसकी सज़ा उम्रकैद या फांसी भी हो सकती है। बलात्कार की शिकायत दर्ज कराने, मुकदमा चलाने और सज़ा देने की दर इंसाफ़ी सरहदों के हिसाब से अलग होती है।
वैसे ये सब हम क्यों बता रहें है…ये सवाल जरुर आया होगा आपके मन में…समाज में आए दिन ये सब होता रहता है, हर कोई सजा से वाकिफ भी है…लेकिन फिर भी इसपर काबू नहीं पाया जा सका। अगर काबू में होता तो डॉ. प्रियंका रेड्डी आज जिंदा होती।

बढ़ती जागरूकता के बावजूद, हर दिन 90 बलात्कार हो रहें हैं, 2017 में 32,559 और 2018 में 33,400 और कई जो रिपोर्ट किए ही नहीं जाते।

देखिए  डॉ. प्रियंका रेड्डी के साथ हुए हादसे को थोड़ा करीब से 2D एनिमेशन में….

25 वर्षीय पशु चिकित्सक के साथ 27 नवंबर की रात शमशाबाद में आउटर रिंग रोड के पास दो ट्रक ड्राइवरों और दो क्लीनरों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। इसके बाद चारों ने घटनास्थल से 28 किलोमीटर दूर शादनगर शहर के पास शव ले जाकर उसे आग के हवाले कर दिया। पुलिस चारों आरोपियों को गिरफ्तारी के बाद, घटना को दोबारा रीक्रिएट करने के लिए घटनास्थल पर लेकर आई। कथित तौर पर चारों आरोपियों ने वहां से भागने की कोशिश की, जिसके बाद पुलिस मुठभेड़ में वे मारे गए। इस काम पर सोशल मीडिया में प्रतिक्रियाएं आने लगी। कुछ लोगों ने पुलिस को शाबाशी दी तो कुछ मे  एनकाउंटर के लिए पुलिस को जिम्मेदार ठहराया। एनकाउंटर पर सवाल  उठे।

वैसे हैदराबाद में गैंग रेप के बाद हत्या की शिकार हुई पशु चिकित्सक के परिवार ने को आखिरकार न्याय मिल गया। सभी चार आरोपियों के पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने से सभी खुश हैं। लेकिन क्या आपको लगता है ये सही है। हर बलात्कारी के साथ ऐसा किया जाना चाहिए…।

देश के 10 सबसे चर्चित रेप केस, जिन्हें भुलाना मुश्किल है।

1- अरुणा शानबाग रेप केस
1973 में हुआ देश का पहला और सबसे चिर्चित रेप केस अरुणा शानबाग रेप केस है। इस केस में मुंबई की एक अस्पताल में काम करने वाली नर्स अरुणा का अस्पताल के ही एक सफाई कर्मचारी सोहनलाल भर्था वालमीकि ने सोडोमी (अप्राकृतिक सेक्स) रेप किया। लेकिन उस वक्त रेप को कानून में अपराध की श्रेणी में नहीं रखा गया था जिससे सोहनलाल पर रेप का केस नहीं दर्ज हो सका था।
2- मथुरा रेप केस
मथुरा रेप केस इतिहास का एक बड़ा रेप केस था। 1972 में महाराष्ट्रा के चंद्रपुर जिले में मथुरा नामकी आदिवासी लड़की का दो सिपाहियों ने बलात्कार किया था। इस मामले में उस लड़की के बारे में कहा गया उसे कई लोगों से संबंध बनाने की आदत है ‌और इसे मानते हुए जिला अदालत ने पुलिस वालों को बरी करने का फैसला सुनाया। 

3- प्रियदर्शिनी मट्टू रेप और हत्या केस
 रेप और हत्या का मामला 1996 में एक और सामने आया। 25 साल की प्रियदर्शिनी मट्टू दिल्ली में कानून की पढ़ाई कर रही थी जिसका सतोष कुमार सिंह नामके शख्स ने उसी के घर में बलात्कार करके उसकी हत्या कर दी थी। 

4- अंजना मिश्रा रेप केस
1999 में हुआ उड़ीसा का अंजना मिश्रा रेप केस पहला हाई प्रोफाइल रेप केस है। अंजना मिश्रा एक आईएफएस अधिकारी की पत्नी थीं जिन्होंने उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से राज्य के महान्यायाधिवक्ता इंद्रजीत राय के खिलाफ 1972 में रेप का प्रयास करने की शिकायत दी थी। इसके बाद 1999 में भूवनेश्‍वर जा रही थी तभी तीन लोगों ने अंजना की पत्रकार दोस्त जिसके साथ वो यात्रा कर रहीं थीं उन्होंने सामने सामूहिक बलात्कार किया।

5- सौम्या रेप केस
सौम्या केरल के एर्नाकुलम से शोर्नूर एक रेल से जा रही थीं तभी गोविंदाचामी नामके शख्स ने उन्हें लूटने के उद्येश्य से हमला किया था। इस मामले में आरापी ने सौम्या का सिर रेल के दरबाजे में दबाकर कुचल दिया था और फिर से उसे ट्रेन से नीचे फेक दिया था। आरोपी गोविंदाचामी ने उसे ट्रेन से नीचे फेकने के बाद खुद भी कूद गया था। और फिर सौम्या की तलाश की और फिर पास के जंगल में ले जाकर उसकी बुरी तरह से बलात्कार किया। ट्रेन से फेंके जाने और बलात्कार का शिकार हुई सौम्या को गंभीर चोंटे होने से कुछ दिन में मौत हो गई थी।

6-मुंबई गैंग रेप केस
एक 22 वर्षीय महिला पत्रकार के साथ पांच युवकों ने दरिंदगी दिखाई थी। एक महिला पत्रकार जब अपने एक दोस्त के साथ एक पिछड़े इलाके में अपने असाइमेंट के लिए फोटोग्राफी के लिए गई तभी पांच युवकों कासिम बंगाली, सलीम अंसारी, चांद शेख, सिराज रहमान और विजय जाधव ने बारी- बारी से महिला से रेप किया।

7-भंवरी देवी गैंगरेप
महिला विकास कार्यक्रम की एक छोटी सी कार्यकर्ता भंवरी देवी राजस्‍थान के भतेरी गांव में काम कर रही थीं। 1992 में जब उन्होंने बाल विवाह के खिलाफ बोलना शुरू किया तो ऊंची जाति के पांच लोगों ने उनके साथ बलात्कार किया। 

 8-स्कारलेट कीलिंग रेप केस
2009 में अपने माता पिता के साथ ब्रिटेन से पर्यटन के लिए भारत आई 15 साल की स्कारलेट अपने भारतीय ब्यायफ्रेंड के साथ गोवा के बीच इलाके में गई जहां उसका बलात्कार किया गया और उसे समुद्र में डुबोकर मार दिया गया।

9-इमराना रेप केस
2005 में हुए इमराना रेप केस अलग धर्म के लिए अलग कानून की नई समस्या देश के सामने खड़ी कर दी है। इस मामले में उत्तर प्रदेश के एक गांव में इमराना का बलात्कार उसके ससुर ने ही किया था। लेकिन इस मामले पर गांव के बुजुर्गों ने इसे सहमति का मामला माना और इमराना को फरमान सुनाया कि वो अपने पति को छोड़कर अब अपने ससुर को ही अपना पति माने। लेकिन मामले को मीडिया के काफी तवज्जो देने पर मामला कोर्ट में पहुंचा। इमराना को न्याय देते हुए अदालत ने ससुर को 10 साल की सजा सुनाई।

10- निर्भया गैंग रेप केस
अब तक सबसे ज्यादा भयानक और क्रूरतम रेप केस दिल्ली रेप केस को माना जा रहा है। इस रेप में एक नाबालिग समेत छह लोगों ने एक मेडिकल की छात्रा से दिसंबर 2012 को दरिंदगी दिखाई उसे शायद ही कोई भूल पाए। इस मामले में पीड़िता के शरीर कई अति गंभीर चोंटे आई थी जिससे वो घटना के दो- तीन दिन बाद ही अस्पलात में दम तोड़ दिया था। इस मामले की कवरेज राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मीडिया में की गई। मामले में दोषी नाबालिग को तीन साल के सुधार घर भेजा गया जबकि मुख्य आरोपी राम सिंह ने कथित तौर पर जेल में ही आत्महत्‍या कर ली थी। बाकी बचे चार अपराध‌ियों को अदालत ने फांसी की सजा सुना चुकी है।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *