आखिर क्यों दुबई के प्रिंस की छठी बेगम ने की बगावत और बन गई बागी राजकुमारी!

UAE की रानी हया बिंत अल हुसैन अपने 2 बच्चों और 31 मिलियन पाउंड (271 करोड़ रुपए) के साथ फरार है। हया दुबई से पहले जर्मनी गई…अपनी बेटी जलीला (11) और बेटे जायेद (7) के साथ। खबरों के मुताबिक हया अपने शौहर शेख मुहम्मद से नराज थी और तलाक कि दरकार कर रही थी।

जी हां दुबई शासक की 45 साल की बेगम, शहजादी हया बिन्त अल-हुसैन, जॉर्डन के स्वर्गीय बादशाह हुसैन और रानी आलिया की बेटी हैं। अरबपति शासक शेख मुहम्मद बिन राशिद अल मकतूम की छठी बेगम जिनका निकाह, 2004 में हुआ था और जॉर्डन के शाह अब्दुल्ला की सौतेली बहन भी है हया। शेख मुहम्मद यूएई के उप राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री हैं। वो दुनिया के सबसे धनी व्यक्तियों में से एक हैं। कयास ये लगाया जा रहा है कि कि हया इस समय लंदन में हैं। राजकुमारी हया दुबई से भागकर जर्मनी पहुंची थीं और वहां शरण मांगी थी। वो इस समय लंदन के प्रमुख इलाक़े केनसिंगटन पैलेस गार्डन में लगभग साढ़े सात सौ करोड़ रुपए क़ीमत के आवासीय परिसर में रह रही हैं और हाई कोर्ट में क़ानूनी लड़ाई की तैयारी में हैं।

राजकुमारी हया और उनके पति दुबई के शासक शेख मोहम्मद में बढ़ी रंजिश और कूटनीतिक संकट

अंतरराष्ट्रीय विवाद
हालांकि, इस कहानी का एक बड़ा अंतरराष्ट्रीय पक्ष भी ये भी है। हया ने जर्मनी सरकार से राजनीतिक शरण मांगी थी। मई 2019 में बर्लिन के लिए एक अनाम राजनयिक के साथ रवाना हुई, संभवतः दूतावास प्रोटोकॉल के सहारे भेष बदल कर और जब दुबई ने जर्मनी से शहज़ादी हया को अरब राज्य वापस भेजने के लिए मांग की, तो बर्लिन ने इनकार कर दिया। इसके कारण दोनों देशों के बीच कूटनीतिक संकट पैदा हो चुकी है।

शाही परिवर की शाही लड़ाई के बीच छिपे कुछ राज को जानाना है तो इस वीडियो को जरुर देखें।

लंदन में संयुक्त अरब अमीरात के दूतावास ने इसे दो लोगों के बीच का आपसी मसला बताते हुए टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। हया अब लौटना नहीं चाहती।अगर उनके पति उन्हें वापस लौटाने की मांग करते हैं तो इससे ब्रिटेन के लिए राजनयिक संकट खड़ा हो जाएगा। ब्रिटेन और संयुक्त अरब अमीरात के नज़दीकी रिश्ते हैं। ये मामला जॉर्डन के लिए भी असमंजस पैदा कर सकता है क्योंकि राजकुमारी हया जॉर्डन के शासक शाह अब्दुल्लाह की सौतेली बहन भी हैं। जॉर्डन के लगभग ढाई लाख लोग संयुक्त अरब अमीरात में काम करते हैं और जॉर्डन दुबई से दुश्मनी लेने की स्थिति में नहीं है।

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की ग्रेजुएट होने के साथ-साथ, शहज़ादी हया एक बेहतरीन घुड़सवार भी हैं, जिन्होंने 2000 सिडनी ओलंपिक में, जॉर्डन के तरफ से हिस्सा भी लिया था। साथ ही अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति, IOC की सदस्य रह चुकी हैं। फ़िलहाल वो यूनाइटेड नेशन की ‘सद्भावना राजदूत’ हैं। मकतूम की छह बीवियों* में से वो एक हैं, जो आम जनता के सामने, बेपर्दा दिखाई देती है और जो अरब दुनिया में, नारी सशक्तिकरण की, प्रतिनिधित्व बन चुकीं हैं। 

हया सोशल मीडिया अकाउंट पर 20 मई 2019 के बाद नहीं देखा गया। जबकि इससे पहले उनके सामाजिक कार्यो से जुड़े फोटो सोशल मीडिया अकाउंट में भरे रहते थे। वो सामाजिक कार्यो में भी फरवरी 2019 से दिखाई नहीं पड़ रहीं हैं।  

गौरतलब है कि इससे पहले, फ़रवरी 2018 में, उनकी एक और बेटी, राजकुमारी लतीफा, जॉन पियर हर्व यौबर्ट नामक एक फ्रांसीसी जासूस की मदद लेकर दुबई से भाग निकली थी। मोटर बोट के ज़रिए अंतर्राष्ट्रीय जल क्षेत्र में इंतज़ार कर रही एक नौका तक पहुंचने में कामयाब रही। लेकिन गोवा के पास भारतीय तट पर उन्हें कब्ज़े में ले लिया गया और जबरन घर वापस भेजा गया।

लोगों के बीच खबर फैल चुकी है कि हया का अफेयर था और अपनी बेटी के साथ बदसलूकी के डर से वो भागी! सवाल ये भी है कि वो दुबई में अपनी शान-ओ-शौक़त और ऐश-ओ-आराम की ज़िंदगी छोड़कर क्यों भागी हैं और उन्हें अपनी जान के लिए किससे और क्यों डर है? वैसे शेख के अलावा आज तक किसी ने भी हया के नाजायज़ रिश्तों का गवाह नहीं बना। लेकिन कुछ सवाल अभी तक पहेली बने ही हुए हैं…भला एक देश का राजा, दुनिया के सामने अपनी बीवी की बेवफ़ाई का खुलासा करके खुद को क्यों शर्मिंदा करेगा? क्या शेख़ का Instagram पर कविता पोस्ट करना एक पब्लिसिटी स्टंट था…

Some wrongs are called betrayal, And you broke the boundary and betrayed. O you who betrayed the most precious of trust, My sorrow revealed your game. Your lie, let it be known, its time has passed, We care not about “we were, and you were,” I have proof of conviction, About what you did. You loosened the reins of your horse and the biggest mistake was that you lied. You know your acts involve an insult, But you only insulted yourself. You no longer have a place with me, Walk away with whoever you were busy with. Let your wickedness help you, I care not whether you live or die.

जिससे उसे दुनिया की सहानुभूति मिले। लोगों के सामने अपने दिल का दुखड़ा रो कर कहीं वो अंतरराष्ट्रीय मीडिया की नज़रें अपने परिवार से किए दुर्व्यवहार से हटाना तो नहीं चाहते? जो भी हो…ये सच तो हया और उनके पति के अलावा कोई औऱ नहीं जान सकता। लेकिन  2016 कि बात करें तो इनके रिश्ते कि मिसाल दी जाती थी। अमीरात वुमेन मैगज़ीन के 2016 के अंक में राजकुमारी हया ने शेख मोहम्मद के बारे में कहा था, ”वो जो कुछ भी करते हैं तो अद्भुत होता है। मैं हर रोज़ ऊपर वाले का शुक्रिया अदा करती हूं कि मैं उनके इतना क़रीब हूं।” इसी मैगज़ीन में राजकुमारी हया और शेख़ मोहम्मद को एक परफेक्ट जोड़े को तौर पर पेश करते हुए भी आर्टिकल प्रकाशित किया गया था।

शहजादी हया ने अपने पति पर लगाए आरोप 
जॉर्डन की राजकुमारी हया ने अपने पति पर गंभीर आरोप लगाए। लंदन की अदालत में उन्होंने अपनी सुरक्षा की मांग की। उन्होंने कोर्ट से घरेलू हिंसा से सुरक्षा के लिए मिलनेवाली सहायता की अपील की है। हया ने दावा किया है कि उनके और उनके दोनों बच्चों की जान खतरे में है और वो जीवन की सुरक्षा के लिए चिंतित हैं और अपने और अपनी बेटी के लिए ‘जबरन विवाह सुरक्षा’ और गैर-छेड़छाड़ के आदेश के लिए आवेदन चाहती है, जो ये सुनिश्चित करेगा कि वे ब्रिटेन में ही बने रहें। खबर है कि 30 जुलाई को राजकुमारी हया ने सर एंड्रयू मैकफारलेन की अदालत में लंदन के रॉयल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस में अपने बच्चों के लिए वार्डशिप के लिए आवेदन भी कर दिया है। 

अब इस शाही परिवार कि शाही लड़ाई में किसकी जीत या किसकी हार होती है ये तो वक्त बताएगा, लेकिन कुछ बात तो है जो दुनिया के सामने नहीं आ पा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *