कम बजट फिल्मों ने कमाई के तोड़े रिकॉर्ड, जानिए छोटी बजट फिल्मों का असली हीरो कौन है?

बॉलीवुड में हाल में कई ऐसी फिल्में बनीं, जिनकी लागत बेहद कम थी, लेकिन ये फिल्में कमाई के बंपर रिकॉर्ड बनाने में कामयाब रहीं। जिससे इस साल इंडस्ट्री को बहुत बड़ा झटका लगा है, इंडस्ट्री को शायद सिखने को भी बहुत कुछ मिला। बॉलीवुड दुनिया की सबसे बड़ी इंडस्ट्री हैं जहां हर साल करीब ढाई हजार से ज्यादा फिल्में रिलीज़ होती है। 

शाहरुख़ खान, सलमान खान, हृतिक रोशन ये कुछ ऐसे नाम थे जिन्हें देखने भर के लिए दर्शक सिनेमा हॉल में जाते थे। साथ में खुबसूरत लोकेशन में गाने। खुबसूरत अभिनेत्रियों के साथ रोमांस और फिल्म अपने लागत से हजार गुना वापस कर देता था। लेकिन अब ऐसा नहीं, दर्शकों का नज़रियां बदला है…अब छोटी बजट कि फिल्में अच्छी कहानी और एक्टिंग के बल पर अच्छी कमाई कर रहीं है। जी हां इस साल आई शाहरुख़ और सलमान दोनों की जब हैरी मेट सेजल और ट्यूबलाईट बॉक्स ऑफिस में औंधे मुंह गिरी। तो वहीं छोटी फिल्में जैसे की हिंदी मीडियम, जॉली एलएलबी 2, न्यूटन जैसी फिल्में प्रॉफिट मार्जिन के मामले में बड़ी फिल्मों से कई गुना आगे रहीं। बदलते वक्त के साथ…विक्की, बिट्टु, इकबाल और न्यूटन, बॉक्स ऑफिस पर कब्ज़ा कर रहें हैं…और फिल्मों का असली हीरो बन बैठा है…स्क्रिप्ट! 

चलिए अगर आपको यकिन नहीं हो रहा है तो हम आपको एक उदाहरण से समझाते हैं-

‘URI, ₹25 करोड़ के बजट में, बॉक्स-ऑफिस पर ₹244 करोड़ की आमदनी की, जिसका ‘रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट’ यानी कि RoI, फिल्म की सफलता का नया पैमाना, शानदार 876% था! वहीं “कबीर सिंह”; ₹60 करोड़ रुपए पर, ₹278* करोड़ कमाए; प्रोडूसर का RoI,, 364% ।
“बधाई हो”; ₹30 करोड़ से कम में बनाई गई; आमदनी ₹200* करोड़ के ऊपर! प्रभास की फिल्म “साहो” ने भी  बॉक्स ऑफिस पर, ₹136 करोड़ रुपए कमाए, लेकिन बनाने का खर्च ₹115 करोड़…यानी कि 18% RoI, कुछ ख़ास नहीं, है ना? वहीं दूसरी तरफ, आयुष्मान खुराना की फिल्म, “ड्रीम गर्ल” ने भी उतने ही कमाए, ₹137 करोड़; मगर बनाने का बजट था, सिर्फ ₹30 करोड़; यानी RoI, 357%। आयुष्मान खुराना-तब्बू-राधिका आप्टे स्टारर “अंधाधुन” ने भारत में अच्छा-ख़ासा, ₹95.63 करोड़ की आमदनी की।

मतलब अगर स्क्रिप्ट दमदार है तो…राजकुमार राव और नवाजुद्दीन सिद्दीकी, आम दिखने के बावजूद, बॉक्स ऑफिस पर कमाल दिखा सकते हैं। एक ज़माना था, जब दिबाकर बनर्जी, अनुराग कश्यप और विशाल भारद्वाज जैसे निर्देशक, अगर हिट फिल्में बना दें, तो फिल्म इंडस्ट्री उन्हें किस्मतवाला मानती थी। लेकिन अब ऐसा नहीं रहा। नई पीढ़ी के निर्देशक और लेखक (प्रोड्यूसर दिनेश विजान, अमित शर्मा डायरेक्टर और प्रोड्यूसर, राज निदिमोरु डायरेक्टर, कृष्णा डी.के. फिल्म डायरेक्टर, राज शांडिल्य लेखक और डायरेक्टर), अब कहानी और हक़ीक़त पर ध्यान देकर, हिट के बाद हिट फिल्में निकाले जा रहें हैं और लोगों को काफी पसंद भी आ रहें हैं।

लेकिन एक बार फिर एक मसाला फिल्म कि सफलता ने ये पैमाना बदल दिया है, एक फिर मसाला फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर कब्जा कर लिया है, जी हां इसका हालिया उदाहरण है YRF एक्शन ड्रामा फ़िल्म…“वॉर”। ये ऋतिक रोशन और टाइगर श्रॉफ की फिल्म बनीं तो ₹200 करोड़ रुपए में, लेकिन अब तक ₹317 करोड़ कमा चुकी है। आनेवाले दिनों में अब ये देखना बड़ा दिलचस्प होगा कि बॉक्स ऑफिस पर कौन राज करेगा…छोटी बजट कि फिल्में या फिर मसालेदार और बड़े स्टार्स कि  फिल्में।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *